ग्राम विकास एवं ग्राम पंचायत अधिकारियों के भारी तादात में डीएम ने किया बदलाव

किसी भी स्थिति में ग्राम पंचायतों का परिवर्तन नहीं किया जायेगा:- जिलाधिकारी
हरदोई जिलाधिकारी पुलकित खरे ने अवगत कराया है कि जनहित में निम्नांकित ग्राम विकास अधिकारियों एवं ग्राम पंचायत अधिकारियों का प्रशासनिक आधार पर स्थानान्तरण किया जाता है तो तत्काल प्रभाव से लागू होगा।
 उन्होने बताया है कि ग्राम विकास अधिकारी गिरीश कुमार वर्मा को ब्लाक हरियावां से सुरसा, ग्राम पंचायत अधिकारी संजय प्रताप को सुरसा से हरियावां, ग्राम विकास अधिकारी राकेश वर्मा को भरावन से अहिरोरी, ग्राम पंचायत अधिकारी विनय कुमार वर्मा को अहिरोरी से बावन, ग्राम विकास अधिकारी रजनीश कुमार त्रिपाठी को अहिरोरी से पिहानी, ग्राम पंचायत अधिकारी विमल कुमार श्रीवास्तव को पिहानी से अहिरोरी, ग्राम पंचायत अधिकारी आक्रोश वर्मा को बिलग्राम से साण्डी, रवीन्द्र कुमार को सण्डीला से बिलग्राम, ग्राम विकास अधिकारी सुश्री किरन यावद को बिलग्राम से कछौना, ग्राम पंचायत अधिकारी सलीम खान को कछौना से बिलग्राम, ग्राम विकास अधिकारी रामकुमार को बेंहन्दर से भरावन, लक्ष्मीनरायण को कछौना से सण्डीला, प्रदीप कुमार द्वितीय को बिलग्राम से कछौना, फकरूद्वीन को मल्लावां से बिलग्राम, ग्राम पंचायत अधिकारी सुश्री सरिता वर्मा को बिलग्राम से बेंहन्दर, कमल तिवारी को माधौगंज से बिलग्राम,अखिलेश कुमार को सण्डीला से बिलग्राम तथा ग्राम पंचायत अधिकारी सुरेश कनौजिया को ब्लाक मल्लावां से पिहानी स्थानान्तरित किया गया है।
 जिलाधिकारी ने बताया कि इसी तरह ग्राम पंचायत अधिकारी अजय प्रताप को ब्लाक पिहानी से मल्लावां, दिलीप कुमार पटेल को शाहाबाद से टोडरपुर, ग्राम पंचायत अधिकारी रामचरन को टोडरपुर से शाहाबाद, मानवेन्द्र सिंह को साण्डी से हरपालपुर, ग्राम विकास अधिकारी संजय कुमार तिवारी को हरपालपुर से टोडरपुर, ग्राम पंचायत अधिकारी लाल बिहारी को भरखनी से टोडरपुर, ग्राम विकास अधिकारी राजेश कश्यप को टोडरपुर से माधौगंज, अभिषेक पाल को बिलग्राम से भरखनी, ग्राम पंचायत अधिकारी दिनेश कुमार गुप्ता को बावन से अहिरोरी, जितेन्द्र कुमार गुप्ता का भरखनी से सण्डीला, सुश्री दिब्या सिंह को टोडरपुर से सुरसा, जावेद अहमद को टोडरपुर से मल्लावां, धीरेन्द्र सिंह को भरावन से कोथावां तथा ग्राम पंचायत अधिकारी संतोष कुमार कोथावां को ब्लाक भरावन स्थानान्तरित किया गया हैं।
 जिलाधिकारी ने इस सम्बन्ध में जिला विकास अधिकारी एवं जिला पंचायत राज अधिकारी को निर्देश दिये है कि संबंधित खण्ड विकास अधिकारियों के माध्यम से यह सुनिश्चित करायेें कि ग्राम पंचायतों का सेट नहीं तोड़ा जायेगा और प्रतिस्थानी को यथावत वहीं ग्राम पंचायतें चार्ज में दी जायेगीं जो उसके पूर्ववर्ती के पास थी और किसी भी स्थिति में ग्राम पंचायतों का परिवर्तन नहीं किया जायेगा।
रिपोर्ट- कुलदीप सैनी क्राइम 7 न्यूज़
Top