एक जनवरी से लगेगा ग्वालियर मेला

ग्वालियर 01 दिसंबर 2018/ ग्वालियर व्यापार मेला एक जनवरी से 20 फरवरी तक
आयोजित होगा। ग्वालियर के ऐतिहासिक मेले को और भव्यता के साथ आयोजित करने के
लिए ग्वालियर संभाग के आयुक्त एवं मेला प्राधिकरण के अध्यक्ष श्री बीएम शर्मा ने विभिन्न
समितियों का गठन कर दिया है। समिति के सभी पदाधिकारियों से मेले के आयोजन की रूप-
रेखा तैयार कर प्रस्तुत करने के निर्देश दिए गए हैं।
संभागीय आयुक्त एवं मेला प्राधिकरण के अध्यक्ष श्री बीएम शर्मा ने शनिवार को मेला
प्राधिकरण के सभाकक्ष में मेले के आयोजन हेतु गठित समिति के सदस्यों के साथ बैठक
अयोजित कर आवश्यक दिशा निर्देश दिए। बैठक में जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन
अधिकारी श्री शिवम वर्मा, एडीसनल एसपी श्री अमन अमन सिंह राठौर, मेला सचिव श्री
पीसी वर्मा सहित विभागीय अधिकारी और मेला व्यापारिक मंडल के पदाधिकारी उपस्थित
थे।
संभागीय आयुक्त श्री बीएम शर्मा ने बैठक में सभी समितियों के संयोजकों से कहा है कि
7 दिसबंर तक वे अपनी-अपनी समितियों की बैठकें आयोजित कर मेले में की जाने वाली
व्यवस्थाओं की कार्ययोजना तैयार करें। आगामी 9 एवं 10 दिसबंर को आयोजित होने वाली
मेला प्राधिकरण की बैठक में उस पर अंतिम निर्णय लिया जा सके। उन्होंने कहा कि ग्वालियर
के ऐतिहासिक मेले को और भव्यता प्रदान करने के प्रस्तावों को भी कार्ययोजना का हिस्सा
बनाया जाए।
संभागीय आयुक्त श्री बीएम शर्मा ने बैठक में कहा कि मेला प्राधिकरण ने मेला परिसर
को और बेहतर बनाने के लिए कई कार्य किए हैं। मेले में रंगाई-पुताई का कार्य भी किया जा
चुका है। इसके साथ ही मूलभूत सुविधाओं को भी व्यवस्थित किया गया है।
बैठक में बताया गया कि प्राधिकरण द्वारा इस वर्ष मेले की व्यवस्थाओं के सुचारू
संचालन हेतु 12 समितियों का किया गया है।
प्रशासनिक समिति-: मेले की सामान्य प्रशासनिक व्यवस्थाओं के लिए अपर आयुक्त
ग्वालियर संभाग की अध्यक्षता में कमेटी का गठन किया गया। इसमें नगर निगम आयुक्त
ग्वालियर, मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत, अतिरिक्त जिला दंडाधिकारी
ग्वालियर, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक ग्वालियर, कार्यपालन यंत्री पीडब्ल्यूडी (ईएनडम) ,
मुख्य स्वास्थ्य एवं चिकित्सा अधिकारी ग्वालियर एवं मेला सचिव को रखा गया है।
सांस्कृतिक समिति:- सांस्कृतिक कार्यक्रमों का तिथिवार निर्धारण एवं कलाकारों के चयन हेतु
अपर जिला दंडाधिकारी की अध्यक्षता में कमेटी का गठन किया गया है। इस कमेटी में केन्द्र
निर्देशक आकाशवाणी, केन्द्र निर्देशक दूरदर्शन ग्वालियर, श्री तेज नारायण शर्मा बैचेन
(समन्वय कवि सम्मेलन) , श्री काजी तन्वीर, मदन मोहन दानिस (समन्वय मुशायरा) एवं
मेला सचिव रहेंगे।
बाजार समिति:- मेले में बाजार व्यवस्थाओं के लिए एवं उन पर प्रभावी नियत्रंण के लिए
अपर जिला दंडाधिकारी ग्वालियर की अध्यक्षता में कमेटी गठित की है। इसमें अनुविभागीय
अधिकारी मुरार, उपायुक्त नगरनिगम, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक ग्वालियर एवं मेला सचिव
को रखा गया है।

..2

..2..

झूलों की जाँच समिति:- मेला परिसर में लगने वाले झूलों की नियमित जाँच के लिए
कार्यपालन यंत्री ईएण्डएम लोकनिर्माण विभाग की अध्यक्षता में समिति का गठन किया गया
है। इसमें एसडीओ पीडब्ल्यूडी ईएण्एम, सहायक यंत्री मध्य क्षेत्र विद्युत कम्पनी ग्वालियर को
रखा गया है।
विद्युत समिति:- जिले में दुकानों एवं परिसर में अस्थायी विद्युत फिटिंग मानकों के अनुसार
तथा विद्युत संबंधी समस्याओं के निराकरण एवं व्यवस्थाओं पर प्रभारी नियंत्रण के लिए
संभागीय यंत्री मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कम्पनी ग्वालियर, कार्यपालन यंत्री विद्युत सुरक्षा,
थाना प्रभारी पुलिस थाना गोला का मंदिर और मेला सचिव को रखा गया है।
प्रचार-प्रसार समिति:- मेले का प्रतिदिन प्रिंट एवं इलेक्ट्रोनिंक मीडिया में व्यापक प्रचार-
प्रसार, मेला उद्याटन एवं विज्ञापन संबंधी व्यवस्थाओं के लिए अपर संचालक जनसंपर्क की
अध्यक्षता में कमेटी का गठन किया गया है। इस कमेटी में जनसंपर्क अधिकारी, नगरनिगम
ग्वालियर तथा मेला सचिव को रखा गया है।
दंगल समिति:- मेले में आयोजित होने वाले दंगल की तिथियां निर्धारण करने, पहलवानों के
आमंत्रण आदि व्यवस्थाओं के लिए जिला खेल अधिकारी ग्वालियर, थाना प्रभारी गोला का
मंदिर और मेला सचिव की कमेटी बनाई गई है।
मेला परिसर में साफ-सफाई जनसुविधा (समिति):- मेला परिसर के अंदर एवं बाहर नियमित
सफाई एवं पर्यवेक्षण हेतु समिति गठन किया गया है। इसमें उपायुक्त नगरनिगम, स्वास्थ्य
अधिकारी नगरनिगम, क्षेत्रीय जोनल अधिकारी तथा मेला सचिव को रखा गया है।
पार्किंग व्यवस्था (यातायात समिति):- मेले के दौरान मेला परिसर में आने वाले वाहनों की
पार्किंग हेतु समिति बनाई गई है जिसमें एसडीएम मुरार, नगरनिगम उपायुक्त, डीएसपी
यातायात, थाना प्रभारी गोला का मंदिर और मेला सचिव को रखा गया है।
विभागीय प्रदर्शनी समिति:- ग्वालियर व्यापार मेले में लगने वाली विभिन्न विभगों की
प्रयदर्शनी की व्यवस्थाओं के लिए मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत की अध्यक्षता में
कमेटी का गठन किया गया है। इस कमेटी में अपर संचालक जनसंपर्क, संयुक्त संचालक नगर
एवं ग्राम निवेश, संयुक्त संचालक महिला एवं बालविकास, संयुक्त संचालक पंचायत एवं
सामाजिक न्याय, संयुक्त संचालक चिकित्सा एवं स्वास्थ्य तथा मेला सचिव को रखा गया है।
पुरस्कार समिति:- मेला समापन के अवसर पर विभिन्न सेक्टरों में दुकानदारों को साजसज्जा
हेतु पुरस्कृत किए जाने के लिए मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत की अध्यक्षता में
कमेटी का गठन किया गया है इसमें अपर संचालक जनसंपर्क और मेला सचिव को रखा गया
है।
सुरक्षा व्यवस्था समिति:- मेला परिसर में सुरक्षा व्यवस्था एवं परिसर में लगाए जा रहे
सीसीटीवी कैमरों के संबंध में कमेटी का गठन किया गया है। इसमें अपर पुलिस अधीक्षक,
उपपुलिस अधीक्षक यातायात, नगरपुलिस अधीक्षक मेला परिसर ग्वालियर एवं मेला सचिव
को रखा गया है।
पशुमेला आयोजन समिति:- राज्य स्तरीय पशु एवं किसान मेले के आयोजन हेतु समिति का
गठन किया गया है इसमें संयुक्त संचालक पशु चिकित्सा सेवाएं ग्वालियर, संयुक्त संचालक
किसान कल्याण एवं कृषि विकास ग्वालियर तथा मेला सचिव को सदस्य के रूप में नियुक्त
किया गया है।
विभागीय प्रदर्शनी 31 दिसंबर तक अनिवार्यत: पूर्ण करें – संभागीय आयुक्त:-
ग्वालियर व्यापार मेले में प्रतिवर्ष विभिन्न विभागों द्वारा शासकीय योजनाओं पर केन्द्रित
विकास प्रदर्शनियां लगाई जाती हैं। इस वर्ष ग्वालियर व्यापार मेला 1 जनवरी से प्रारंभ
होगा। सभी विभागीय अधिकारी अपने-अपने विभाग की प्रदर्शनियां 31 दिसंबर तक
अनिवार्यत: पूर्ण कर लें। 31 दिसंबर के पश्चात भी प्रदर्शनी अधूरी पाई गई तो संबंधित
विभागीय अधिकारी के विरूद्ध कार्यवाही की जाएगी।

..3

..3..

संभागीय आयुक्त श्री बीएम शर्मा ने शनिवार को मेला प्राधिकरण के सभाकक्ष में
विभागीय अधिकारियों की बैठक लेकर प्रदर्शनियों के आयोजन के संबंध में आवश्यक दिशा-
निर्देश दिए हैं। बैठक में मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत श्री शिवम वर्मा, अपर
आयुक्त जनसंपर्क श्री जीएस मौर्य, मेला सचिव श्री पीसी वर्मा सहित विभागीय अधिकारी
उपस्थित थे।
संभागीय आयुक्त श्री बीएम शर्मा ने कहा है कि विभागीय अधिकारी अपने-अपने
विभाग की प्रदर्शनी आयोजन की सभी व्यवस्थाएं समय रहते पूर्ण कर लें। 31 दिसंबर तक
सभी विभाग अपनी-अपनी प्रदर्शनियां लगाएं। उन्होंने कहा कि प्रदर्शनी अच्छी और
जनउपयोगी हो इसका भी ध्यान रखा जाए। प्राधिकरण की ओर से इस वर्ष रेलवे, वायुसेना
की भी प्रदर्शनी मेले में लगे इसके प्रयास किए जा रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Top